Friday, 1 January 2016

नववर्ष मंगलमय हो!



आज मेरे ब्लॉग को पूरे तीन  साल हो गये हैं। 2015 में अत्यधिक व्यस्तता की वजह से कुछ कम लिख पाया। 

इस वर्ष कोशिश करूँगा की ज़्यादा से ज़्यादा रचनाएँ आप सभी तक पहुँचा सकूँ। 
आप सभी को नववर्ष 2016 की हार्दिक शुभकामनाएँ.

 नववर्ष मंगलमय हो!

बीत गयी वो शाम,
आज नया आगाज़ है,

आँखों में नये सपने हैं,
होठों पे नये नगमें हैं.

धड़कन में एक दस्तूर है,
साँसों में नया सुरूर है,

उम्मीदोँ  की नयी बहार है,
बदल रहा संसार है.

अपनों का एक साथ है ,
गैरों पर भी विश्वास है। 

नए रौशनी की  दरकार  है ,
अँधियारा मिटने को तैयार है। 

कुछ दुआओं पर  भरोसा है ,
एक अमन की आशा है। 

कुछ नया करने का इरादा है ,
यही नये साल से वादा है। 

शुभकामनाओं के साथ 
                            ©नीतिश तिवारी।

3 comments:

  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार (03-01-2016) को "बेईमानों के नाम नया साल" (चर्चा अंक-2210) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन.... आप को नववर्ष की शुभकामनाएं....

    ReplyDelete